Latest Posts

माय फक डायरी – 4

कॉलेज के एक असाइनमेंट की डेडलाइन सामने आ गयी थी तो मैं सुबह सुबह लाइब्रेरी पहुंच गया और वहा पर असाइनमेंट बनाने लगा.. मैं लाइब्रेरी के एक कार्नर की टेबल पर बैठा नोट्स बना रहा था.. तभी महक मुझे खोजते हुए आ गयी.. और मेरे सामने बैठ गयी.. उस समय लाइब्रेरी में बहुत ही कम … Continue reading माय फक डायरी – 4

जिंदगी का सफर दीदी के साथ भाग 9

अगली सुबह साढ़े 7 बजे के करीब मेरी आँखें खुली मैं बेड पर नंगा पड़ा था और मुझसे लिपटी दीदी भी एकदम नंगी बेसुध सोई हुई थी शायद नशे और थकान की वजह से अभी तक उनकी आंख नही खुली पर उनके मासूम और खूबसूरत चेहरे पर एक संतुष्टि खुशी और मुस्कान थी ….. मुझे … Continue reading जिंदगी का सफर दीदी के साथ भाग 9

छोटी बहन की सील तोड़ी

समय बर्बाद न करते हुए सीधा कहानी की शुरुआत करते है। मैं कौन हूँ इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन मेरी उम्र 25 साल है। इन्सेस्ट का बुखार तो काफी सालो से था लेकिन तड़प एक दोपहर को उठी जब कुछ ऐसा नज़ारा देख लिया जिसे भूल के भी भूल नहीं पा रहा था। बात … Continue reading छोटी बहन की सील तोड़ी

ಅಳಿಯನ ಆಸೆ

ಸೆಕ್ಸ್ ಅನ್ನೋದು ಎಷ್ಟೊಂದು ವಿಚಿತ್ರ. ಕೆಲವೊಮ್ಮೆ ಎಷ್ಟು ಬಯಸಿದರೂ ಸಿಗೋದಿಲ್ಲ, ಇನ್ನೂ ಕೆಲವೊಮ್ಮೆ ತಾನಾಗಿಯೇ ಬರುತ್ತದೆ. ಒಬ್ಬ ಹೆಣ್ಣಾಗಿ ಅದರ ಹಿಂದೆ ಹೋಗೋದು ಕಷ್ಟ ಎಂದಾಗ ಅದೇ ಬಂದರೆ ದೂರ ಕಳಿಸಲು ಆಗುತ್ತಾ…! ಕೆಲವು ತಿಂಗಳುಗಳ ಹಿಂದೆ ಹೀಗೊಂದು ಅನುಭವ ನನಗೂ ಆಗಿತ್ತು ಅದನ್ನು ಇಲ್ಲಿ ಬರಿಯುತ್ತಿದ್ದೇನೆ. ನನ್ನ ಹೆಸರು ಜಯಾ, ವಯಸ್ಸು 52. ಮದುವೆಯಾಗಿ 27 ವರ್ಷದ ಮಗಳಿದ್ದಾಳೆ. ಗಂಡನಿಗೆ 57 ವರ್ಷ, ಸರ್ಕಾರಿ ಉದ್ಯೋಗ. ಒಟ್ಟಿನಲ್ಲಿ ನಮ್ಮದು ಸುಖೀ ಸಂಸಾರ. ವರ್ಷದ ಹಿಂದೆ ಮಗಳಿಗೂ … Continue reading ಅಳಿಯನ ಆಸೆ

বিয়ে নামের সাইনবোর্ড। পর্ব – প্রতিশোধ ২

(আমার নিয়মিত পাঠিকা FAHMIDA কে উৎসর্গ করলাম এই পর্ব) শাহানা চৌধুরী (লাভলী আপা) বাসায় এসে সেই রাতের কথা ভাবছিলো, কি হয়েছিল কি করেছিলো উত্তমদা। মনে হতেই শরীরে একরকম শিহরণ জাগছিলো। উত্তমদার হাতের স্পর্শ, উত্তমদার প্রতিটি ঠাপ, গালে আর গলায় উত্তমদার প্রতিটি চুমু আপা যেন এখনো অনুভব করছে। আসলে যতই রাগ আর অনিচ্ছা দেখাক না কেন … Continue reading বিয়ে নামের সাইনবোর্ড। পর্ব – প্রতিশোধ ২